कुछ रोशन हैं ज़िन्दगी तेरे आने से
कुछ बहकी सी हैं फ़िज़ा तेरे आने से
तू मुक्कद्दर हैं मेरे प्यार का
झूम उठा हैं मेरा दिल तेरे आने से
अब आये हो तो कभी लौट कर मत जाना
टूट कर भीकर जाउंगी तेरे चले जाने से

मेरी बस एक तमन्ना थी जो हसरत बन गयी
कभी तुमसे दोस्ती थी अब मोहब्बत बन गयी
कुछ इस तरह शामिल हुए तुम ज़िन्दगी में की
सिर्फ तुझे ही सोचते रहना मेरी आदत बन गयी

हमने उनसे कहा की वैलेंटाइन डे आने वाला
है, क्या चाहिए? और उन्होंने हमारा हाथ
थाम लिया |