दशहरा कार्यक्रम में बोले भागवत, 70 साल में पहली बार महसूस हो रही है आजादी

दशहरा कार्यक्रम में बोले भागवत, 70 साल में पहली बार महसूस हो रही है आजादी
Updated 13:25 30 Sat Sep 2017
Sharing Icons from Add this

नागपुर। शनिवार को पूरे देश में बुराई पर अच्छाई की जीत का त्यौहार मनाया जा रहा है। इस कड़ी में महाराष्ट्र के नागपुर में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवन ने कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। आरएसएस कार्यकर्ताओं ने विजयादशमी के मौके पर मार्च निकाला। जिसके बाद कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मोहन भागवन ने सभी लोगों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि अब 70 सालों में पहली बार आजादी महसूस हो रही है।

इस दौरान मोहन भागवन ने शुक्रवार के हुए मुंबई हादसे पर दुख जताया और कहा कि शासन के अच्छे संकल्प तो हैं लेकिन लेकिन इसे लागू करना बेहद जरूरी है। उन्होंने कहा कि देश की सुरक्षा के लिए सीमा पर जवान हैं जिनके लिए साधन संपन्न बनाने के लिए हमें तेजी बढ़ाने की जरूरत है। मोहन भागवत ने कहा कि सीमा पर जिसने भी देश को चुनौती दी है उसे अच्छा जवाब दिया गया है। यहां तक की अंतरराष्ट्रीय मंच पर भी उन्हें जवाब दिया गया है।

उन्होंने कहा कि कश्मीर में भी आतंकियों को आर्थिक तौर पर नुकसान पहुंचाया गया है तथा अब कश्मीर में आतंकियों को भारत विरोध गतिविधी के लिए भी काफी बार सोचना पड़ रहा है। आरएसएस प्रमुख ने कहा कि केरल और बंगाल के बारे में सभी लोग जानते हैं, वहां पर राष्ट्र विरोधी ताकत अपने पैर पसारने की कोशिश कर रहे हैं। रोहिंग्या मुस्लिमों पर उन्होंने कहा कि यह देश के सुरक्षा के लिए सही नहीं हैं।

 

और पढ़ें