आपकी सेहत को दुरस्त करेगी दालचीनी

आपकी सेहत को दुरस्त करेगी दालचीनी
Updated 14:55 14 Fri Jul 2017
Sharing Icons from Add this

स्‍वाद और सुगंध से भरपूर दालचीनी को मसालों में अहम स्‍थान मिला हुआ है। यह श्रीलंका एवं दक्षिण भारत में अधिक मात्रा में पायी जाती है। दालचीनी  वृक्ष की छाल से बनाई जाती है। यह एक प्रकार का गरम मसाला है। इसे मैक्‍सिको में चॉकलेट बनाने में प्रयोग किया जाता है।

आइये जानते हैं दालचीनी  से होने वाले  स्‍वास्‍थ्‍य लाभ के बारे में:

  • दालचीनी के सेवन से डायबिटीज नियंत्रित होती है। खासकर टाइप-2 डायबिटीज में यह बहुत ही लाभकारी सिद्ध होता है। शोधों द्वारा यह बार सामने आई है कि इसके सेवन से रक्त में ग्लुकोज का लेवल कम होता है। आकड़ो के अनुसार इसके सेवन से टाइप-2 डायबीटिज में ग्लूकोज का स्तर 18 से 24 फीसदी तक कम हो सकता है।
  • स्त्री रोगो में दालचीनी का प्रयोग बहुत ही लाभकारी होता है। इसका उपयोग गर्भाशय के विकार और गनोरिया में सहायक होता है। प्रसव के बाद यदि महिला एक महिने दालचीनी के टुकड़ो को चबाये तो ऐसी अवस्था में गर्भ धारणा को टाला जा सकता है। साथ ही दालचीनी के सेवन से माता के स्तन का दूध बढ़ता है, और गर्भाशय का संकुचन होता है।
  • ब्लाडर इन्फेक्शन से ग्रषित व्यक्ति यदि दो चम्मच दालचीनी पाउडर को एक चम्मच शहद में मिलाकर गरम पानी क साथ सेवन करें तो मुत्रपथ के रोगाणु नष्ट हो जाते हैं।
  • सर्दियों में ठंडी हवा लगने की वजह से सिर दर्द होने पर दालचीनी पाउडर को पानी में मिलाकर पेस्ट बनाकर माथे पर लगाने से राहत मिलती है।
  • ब्लाडर इन्फेक्शन तथा जोड़ों के दर्द से ग्रषित व्यक्ति यदि दो चम्मच दालचीनी पाउडर को एक चम्मच शहद में मिलाकर गरम पानी के साथ सेवन करें तो मुत्रपथ के रोगाणु नष्ट हो जाते हैं।
  • दालचीनी हार्ट के लिए बहुत ही लाभकारी होती है। इसमें ट्राईग्लिसराइड और कोलेस्ट्रोल को कम करने वाले एंजाइम उचित मात्रा में पाए जाते है। अतः रोज इसके सेवन से हार्ट अटैक की संभावना कम हो जाती है।
  • एक चम्मच दालचीनी पाउडर और पांच चम्मच शहद को मिलाकर गाढ़ा पेस्ट बनाकर दांत के दर्द वाली जगह पर लगाने से तुरंत राहत मिलती है।

और पढ़ें