मिशन गुजरात पर शाह, पाटीदार समुदाय ने किया विरोध

मिशन गुजरात पर शाह, पाटीदार समुदाय ने किया विरोध
Updated 19:32 01 Sun Oct 2017
Sharing Icons from Add this

अहमदाबाद। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने करमसद स्थित सरदार पटेल के घर से अपना गुजरात गौरव यात्रा की शुरूआत की। गौरव यात्रा के दौरान बीजेपी अध्यक्ष को पाटीदार समुदाय के युवाओं के विरोध का भी सामना करना पड़ा। यात्रा की शुरुआत में जब वो करमसद में लोगों को संबोधित कर रहे थे उसी समय पाटीदार युवाओं ने भाजपा के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। बताया जा रहा था कि अमित शाह पटेल समुदाय को मनाने के लिए ही सरदार पटेल क घर से अपनी यात्रा की शुरुआत की। लेकिन उनको वहां पर विरोध का सामना करना पड़ा। अपनी यात्रा को संबोधित करते हुए बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि यह माननीय सरदार पटेल की धरती है। उन्होंने कहा कि सरदार पटेल ने देश को एक करने और किसानों के भलाई के लिए आवाज उठाई।

इस मौके पर अमित शाह ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा पीएम मोदी ने जो विकास का मॉडल गुजरात को दिया उसे अब पूरे देश में लागू किया जा रहा है। ये प्रदेश के लिए एक गौरव की बात है। उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी की ओर से दिया गया भ्रष्टाचार मुक्त मॉडल ही गुजरात मॉडल है। वहीं कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि वह हमारे कामों का ब्योरा मांगते हैं लेकिन मैं उनसे कहना चाहता हूं कि पहले वह सरदार पटेल और गुजरात की तीन पीढ़ियों के साथ हुए भेदभाव और अन्याय का हिसाब दें।

अमित शाह ने इस बात पर भी सवाल उठाये कि सरदार पटेल को भारत रत्न देने में देरी क्यों कि गई। उऩ्होंने कहा कि मोरारजी भाई के साथ भी अन्याय हुआ था। शाह ने फिर कहा कि कांग्रेस की तीसरी पीढ़ी सोनिया और राहुल गांधी ने नरेन्द्र मोदी के साथ भी अच्छा नहीं किया। कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री माधव सिंह सोलंकी का नाम लेते हुए उन्होंने कहा कि किसानों और गुजरातियों पर उन्होंने गोलियां चलवाई थी।

 

और पढ़ें